Thursday, 18 April 2013

प्रेम में खुद को जलाने लगी हूँ
खुद ही खुद को मिटाने लगी हूँ
कैसा सम्मोहन है
मेरे प्रिय !!!... इरा टाक 

No comments:

Post a Comment