Tuesday, 12 March 2013

उनके सुधरने की उम्मीद पर जी रहे हैं एक एक दिन
और वो ऐसे सितमगर हैं कि रोज़ कल पर टाल देते हैं ..इरा टाक 

No comments:

Post a Comment